Kele ka ped क्या केले का पेड़ शुभ हैं?

Kele Ka Ped को सबसे पवित्र माना जाता है और कई धार्मिक सेवाओं में इसका उपयोग किया जाता है। केले दक्षिण भारत में व्यापक रूप से उगाए जाते हैं। आइए जानते हैं इस पेड़ के 14 अद्भुत फायदों के बारे में।

1. इसके स्वास्थ्य लाभ हैं: Kele Ka Ped स्वास्थ्य के लिए अच्छा होता है क्योंकि केले में विटामिन ए, विटामिन सी, थायमिन, राइबो-फ्लेविन, नियासिन और अन्य खनिज प्रचुर मात्रा में होते हैं। पानी की मात्रा 64.3 प्रतिशत, प्रोटीन 1.3%, कार्बोहाइड्रेट 24.7% और ल्यूब 8.3% है।

 

2. कई बीमारियों के लिए फायदेमंद: केला एक पौष्टिक और स्वादिष्ट फल है जो पूरे मौसम में आसानी से मिल जाता है। केले स्वादिष्ट, मीठे, बलवान, वीर्य और मांस बढ़ाने वाले, आँखों के तनाव में लाभकारी होते हैं। पके केले को नियमित रूप से खाने से शरीर मजबूत होता है। यह कफ, गाजी पित्त, वात और प्रदर के विकर्षणों को नष्ट करता है।

3 धन और समृद्धि में वृद्धि: Kele Ka Ped की पूजा धन और समृद्धि के लिए की जाती है। इनकी नित्य सेवा करने से लक्ष्मी प्रसन्न होती हैं। ऐसा माना जाता है कि केले के पेड़ की पूजा करने से समृद्धि आती है

4. सभी वास्तु दोष दूर करें: घर की चारदीवारी पर केले का पेड़ लगाना एक अच्छा विचार है। बृहस्पति ग्रह की एक विशेषता के रूप में, इसे उत्तर-पूर्व में रखना आदर्श है। घर के सामने और पीछे के दरवाजे पर Kele Ka Ped न लगाएं। केले के पौधे के आसपास साफ-सफाई रखें। केले के आधार पर एक लाल धागा बांधें।

 

5. राजा विष्णु और देवी लक्ष्मी प्रसन्न: राजा विष्णु और देवी लक्ष्मी को नियमित रूप से केले भेंट करने से वे प्रसन्न होते हैं और भक्तों को आशीर्वाद देते हैं।

 

6. बुध और केतु ग्रह: केले का पौधा बुध और केतु ग्रह की एक विशेषता है। घर में इसकी उपस्थिति इन ग्रहों के दोषों को दूर करती है, लेकिन अपनी कुंडली देखकर ही इसका प्रयोग करें।

 

7. पत्तों का महत्व: प्रसाद को आज भी केले के पत्तों से प्रचारित किया जाता है और इसके साथ खाया जाता है। ऐसा करने से उनके विशेष पदार्थ हमारे शरीर में प्रवेश कर हमें शांति प्रदान करते हैं।

 

8. धनवान बनने की इच्छा : केल के पौधे की जड़ में रोजाना पानी दें। गुरुवार के दिन विशेष रूप से उनकी सेवा करने के बाद कच्चा दूध चढ़ाएं और जहां विष्णु-लक्ष्मी के धनी होने की कामना करें वहीं रहें। कहा जाता है कि केले पर विष्णु और लक्ष्मी का वास होता है।

 

9. बच्चों की परेशानी दूर : बच्चे खुश रहें और घर की समस्याओं से दूर रहें।

 

10. बृहस्पति ग्रह का सकारात्मक प्रभाव: केले का पौधा घर के अंदर लगाने से बृहस्पति ग्रह का सकारात्मक प्रभाव मिलता है।

 

11. सादा वैवाहिक जीवन : घर में इसकी उपस्थिति वैवाहिक जीवन की मुश्किलों को दूर करती है। अविवाहित लड़कियों की जल्द ही शादी हो जाती है।

 

12. शिक्षा में सफलता: यह पौधा उच्च शिक्षा और ज्ञान के लिए उपयोगी साबित होता है, क्योंकि इससे शांतिपूर्ण और रचनात्मक ऊर्जा का प्रवाह निरंतर जारी रहता है।

 

केले को सबसे पवित्र माना जाता है और कई धार्मिक सेवाओं में इसका उपयोग किया जाता है। राजा विष्णु और देवी लक्ष्मी को केले का भोग लगाया जाता है। प्रसाद अभी भी केले के पत्तों द्वारा प्रचारित किया जाता है। आइए जानते हैं केले की पूजा के 5 आश्चर्यजनक फायदे।

 

 

 वैज्ञानिक परिचय:

केले में मुख्य रूप से विटामिन ए, विटामिन सी, थायमिन, राइबो-फ्लेविन, नियासिन और अन्य खनिज होते हैं। इस मामले में, पानी की मात्रा 64.3 प्रतिशत, 1.3 प्रोटीन, 24.7% कार्बोहाइड्रेट और 8.3% चिकनाई है।

 

 आयुर्वेदिक लाभ:

केला एक पौष्टिक और स्वादिष्ट फल है जो पूरे मौसम में आसानी से मिल जाता है। केले स्वादिष्ट, मीठे, बलवान, वीर्य और मांस बढ़ाने वाले, आँखों के तनाव में लाभकारी होते हैं। पके केले को नियमित रूप से खाने से शरीर मजबूत होता है। यह कफ, गाजी पित्त, वात और प्रदर के विकर्षणों को नष्ट करता है।

वास्तु टिप्स:

Kele Ka Ped घर के सामने और पीछे के दरवाजे पर न लगाएं। केले के पौधे के आसपास साफ-सफाई रखें। केले के तने पर लाल धागा बांधें। धार्मिक और ज्योतिषीय लाभ :- केले पर विष्णु और लक्ष्मी का वास कहा गया है। आइए जानते हैं 5 प्रमुख धार्मिक लाभ और केले के तारे का पौधा।

 

भगवान विष्णु केले के पेड़ पर विराजमान हैं। गुरुवार के दिन केले की जड़ में पूजा करने से भगवान विष्णु बहुत प्रसन्न होते हैं। यहां जानिए पूजा करने का सही तरीका। माना जाता है कि गुरुवार के दिन केले के पेड़ पर पूजा की जाती है। इस दिन भक्त विष्णु की पूजा के बाद केले की जड़ में फूल, चंदन और जल का दान करके केले की सेवा करते हैं। हिंदू संस्कृति में प्रकृति की हर चीज का अपना महत्व है। इन महत्वपूर्ण वस्तुओं में पेड़-पौधे भी शामिल हैं।

 

ऐसा माना जाता है कि धर्म की रक्षा और मनुष्य का महान कार्य। घर में खुद को रखने से सुख-शांति आती है और वास्तु शास्त्र के अनुसार घर में बुरी शक्तियां प्रवेश नहीं करती हैं। अगर आपके घर में पेड़ हैं, तो आपके घर में कभी भी नुकसान नहीं होगा। ऐसे पौधों के लिए केले का नाम महत्वपूर्ण होता है। केले के पेड़ की पूजा मुख्य रूप से बृहस्पति देव की पूजा में की जाती है। स्वयं सेवा को अच्छा माना जाता है।

धार्मिक मान्यताओं के अनुसार असली देवगुरु बृहस्पति एक केले के पेड़ पर रहते हैं और गुरुवार का दिन राजा बृहस्पति अर्थात् भगवान विष्णु का होता है और इस दिन को पेड़ पर विराजमान माना जाता है।

 

  •  जल्दी उठो और धोओ और उपवास का पालन करो।
  •  इसके बाद केले के पेड़ को जल दें।

याद रखें कि अगर केले का पेड़ यार्ड में लगाया जाता है, तो उसे पानी न दें; बाहर केले के पेड़ को ही पानी दें।

  •  केले के पेड़ पर हल्दी, चना दाल और गुड़ की गांठ चढ़ाएं।
  •  अक्षत और फूल दें और केले के पेड़ को घेर लें।

 

1. घर के बच्चे खुश और परेशानियों से दूर रहते हैं।

2. ऐसा माना जाता है कि केले के पेड़ की पूजा करने से समृद्धि आती है।

3. घर के अंदर केले का पौधा लगाने से बृहस्पति ग्रह से अच्छे परिणाम प्राप्त हो सकते हैं।

4. इसे घर में रखने से दांपत्य जीवन की परेशानियां दूर होती हैं। अविवाहित लड़कियों की जल्द ही शादी हो जाती है।

5. यह पौधा उच्च शिक्षा और ज्ञान के लिए उपयोगी साबित होता है, क्योंकि इसमें से शांतिपूर्ण और रचनात्मक ऊर्जा का प्रवाह निरंतर जारी रहता है।

Leave a Comment